टॉप 18+ शेयर बाजार में नुकसान से बचने के सबसे बेस्ट टिप्स (2023)

शेयर बाजार में पैसे निवेश करते समय अक्सर कही सारे लोग शेयर बाजार के मौलिक (Basic) बातो पर ध्यान नहीं देते और अपना निवेश किया हुआ पैसा गवा देते है।

 

सही तरीकेसे सही शेयर चुनना कोई आसान बात नहीं और नाही ही यह कोई एक दिन की बात है, शेयर बाजार में नुकसान झेल ने वाले ज़्यदातर बिगिनर्स होते है।

 

शेयर बाजार में जो लोग नए है और जिन्हे शेयर बाजार का ज्ञान नहीं वे लोग अगर Share Market के ऐसे छोटो-छोटी बातो पर ध्यान दे तो वे लोग शेयर बाजार से होने वाले नुकसान से बच सकते है।

 

दोस्तों अगर आप शेयर बाजार की इस विशाल काये दुनिया में नए हो या फिर आप काफी वक़्त से शेयर बाजार में अपना पैसा गावा रहे हो तो शेयर बाजार के इन टिप्स से आपको ज़रूर फायदा होंगा।

 

तो चलिए दोस्तों देखते है की शेयर बाजार में नुकसान से बचने के टिप्स और तरीके जिनपे काम करके और इन टिप्स को फॉलो करके आप शेयर बाजार में होने वाले नुकसान से ज़रूर बच पाओंगे।

 

 

अनुक्रम दिखाएँ
Also, Read 

 

 

 

Top 20+ Share Market में नुकसान से बचने के टिप्स-2022 

 

share bazar me nuksaan se kaise bache

 

 

Share Bazaar में अगर सही तरीकेसे निवेश किया जाए साथ ही सही शेयर चुनकर कर उसमे पैसे निवेश किया जाये तो वो आपको काम समय काफी फायदा दे सकता है।

 

शेयर बाजार में बचने के हमने 20 सबसे अच्छे तरीके और टिप्स बताये है, जो की आपके शेयर बाजार होने वाले नुकसान को फायदे में बदल सकता है।

 

 

 

टिप्स # 1: बाजार के बारे पूरी जानकारी ले

 

शेयर बाजार में नुकसान होने के कही करने में सबसे मौलिक कारन यह है की बाजार का अपुरा ज्ञान होना, क्युकी ज्यादातर निवेशक शेयर बाजार में बिना ज्ञान के निवेश करते है।

 

इसीलिए शेयर बाजार निवेशकों को सबसे पहले भारतीय अर्थवेवस्था का भी थोड़ा बहोत ज्ञान होना चाहिए क्युकी की Share Market और देश की अर्थव्यवस्था आपस में जुड़ी हुई है. यदि एक ऊपर जाता है, तो दूसरा अनुसरण करेगा। 

 

यहां तक कि अगर शेयर बाजार गिरता है, तब अर्थव्यवस्था मजबूत रहेंगी, और बाजार में वृद्धि होगी ताकि आप निवेशित रह सकें। इसलिए पूरी जानकारी लेकर ही शेयर बाजार में निवेश करें। 

 

 

 

टिप्स # 2: बढ़ती कीमत पर लोभ ना करें

 

अगर किसी शेयर की कीमत बढ़ भी रही हो फिर भी आंख बंद करके उन शेयर में निवेश ना करें, इसके बजाय शेयर में होने वाली तेजी को समझे, क्युकी किसी भी कंपनी के शेयर में अचानक आई हुई तेज़ी में मंदी में भी उसी तेज़ी से गिरती है इसलिए ऐसे शेयर से बचे रहे।

 

 

 

टिप्स # 3: चुने हुए स्टॉक की जानकरी ले

 

अगर आप भी वही है जो बहती गंगा में हाट धोते है यानि की अपने ज्ञान के मुताबिक ना चलके लोगो के सलाह पर चलते है तो सबसे पहले यह आदत छोड़ दे।

 

किसी भी कंपनी का शेयर इसलिए ना चुने की वे बहोत प्रसिद्ध और लोकप्रिय है बल्कि किसी भी शेयर में निवेश करने से पहले स्टॉक पर शोध करें।

 

कंपनी की वित्तीय स्थिति, बुनियादी बातों, अनुमानित नकदी प्रवाह, बाजार पूंजीकरण, स्टॉक के आसपास बाजार की भावनाओं और संभावनाओं का पता लगाएं।

 

 

 

टिप्स # 4:  शेयर बाजार में दीर्घकालिक दृष्टिकोण रखें

 

शेयर बाजार में शुरवाती दौर में निवेश करने वाले निवेशक स्टॉक निवेश में त्वरित रिटर्न की आशा करते है, हालांकि यह बात भी सच है कि स्टॉक निवेश में त्वरित रिटर्न की क्षमता है, मगर अगर आपको शेयर बाजार में लम्बे समय तक टिकना है तो हमेशा Long Term में ही निवेश करें।

 

आप बाजार में वृद्धि होने पर त्वरित रुपये कमा सकते हैं, मगर इसमें जोखिम भी उतनी ही ज्यादा होती है।

 

मेरे खयाल से शेयर बाजार नुकसान से बचने के लिए और हमेशा स्थिर रिटर्न के लिए दीर्घकालिक निवेश करने का ही सोचे क्युकी दीर्घकालिक निवेश स्टॉक ट्रेडिंग से जुड़े जोखिम को कम करता है।

 

 

 

टिप्स # 5: कंपनी का पिछला प्रदर्शन भविष्य के मुनाफे की गारंटी नहीं देता

 

शेयर बाजार में किसी कंपनी की सही तरीकेसे जानकारी लेना यह भी बहोत ज़रूरी होजाता है, क्युकी ज्यादातर लोग कंपनी के भूतकाल में हुए फायदे को देख कर निवेश करते है मगर किसी भी कम्पनी का भूतकालीन प्रदर्शन हमें भविष्य में होने वाली फायदा या नुकसान की अनुमति नहीं देता।

 

भारत में ऐसे बहोत से स्टॉक है (Videocon, Paytm, Yes bank) जिनका पिछले कुछ सालो का प्रदर्शन काफी लाभदयक था मगर बात करने वर्तमान की इन सभी कंपनियों की Share कीमत काफी कम हो चुकी है।

 

यदि आपने उनके प्रदर्शन के आधार पर इन शेयरों में निवेश किया होता, तो इन कंपनियों के दिवालिया होने के बाद आपका निवेश बेकार हो जाता. ऐतिहासिक प्रदर्शन भविष्य के मुनाफे की गारंटी नहीं देता है। 

 

आपको वित्तीय बुनियादी बातों का आकलन करना चाहिए और इसमें निवेश करने से पहले कंपनी द्वारा संचालित बाजार की अच्छी समझ होनी चाहिए।

 

 

 

टिप्स # 6: Stop-Loss विकल्प का इस्तेमाल करें 

 

अपने शेयर के नुकसान को कम करने का एक तरीका Stop-Loss इस विकल्प का उपयोग करना है, Stop-Loss विकल्प के तहत, आप ब्रोकर को स्टॉक बेचने का निर्देश देते हैं जब यह किसी विशेष मूल्य स्तर तक पहुंच जाता है, इसे ही स्टॉप-लॉस स्तर कहा जाता है।

 

Stop-Loss का फायदा तब ही होता है जब स्टॉक की कीमतें गिर रही हैं। अपने शेयर Stop-Loss पॉइंट पर बेचकर, आप कीमतों में और गिरावट आने पर रिटर्न के और क्षरण को रोक सकते हैं।

 

इसलिए Market गिरने पर या ऐसा अनुमान होतो हमेशा Stop-Loss अपने इस विकल्प का उपयोग करें।

 

हमेशा न्यूनतम मूल्य का अनुमान लगाएं जिस पर आप स्टॉक बेच सकते हैं और इससे भी आप नुकसान की बजाये लाभ कमा सकते हैं।

 

 

 

टिप्स # 7: अपने भावनाओ को नियंत्रण में रखे 

 

जभ भी शेयर बाजार की बात आती है, तो यहाँ आपकी भावनाओं से ज्यादा व्यावहारिकता मायने रखती है, ये आप अपने Share Market के इस सफर में अपने भावनाओ को व्यापारिक गतिविधियों से जोड़कर काम करते है तब आपको हमेशा नुकसान का ही सामना करना पड़ता है।

 

इसलिए हमेशा Stock बेचते या खरीदते समय हमेशा तो व्यावहारिक रहें और अपने दिमाग और दिल शांत और ठंडा रखे। 

 

याद रखे शेयर बाजार के दुनिया में मंदी या तेज़ी आजीवन नहीं रहती है, शेयर बाजार एक रोलर-कोस्टर की सवारी की तरह होता है, जिसमें लाभ और हानि दोनों का सामना करना पड़ता है।

 

नुकसान से बचने के लिए, आपको अपने निवेश के बारे में स्पष्ट होना चाहिए, इसीलिए  जब बाजार गिरता है या नीचे की ओर चरण में प्रवेश करता है, तो भावनात्मक न हों और अपने स्टॉक को तुरंत बेच दें।

 

शांत रहें और अपना समय लें. जब बाजार बढ़ रहा है, तो धीरे-धीरे और सावधानी से निवेश करें। 

 

इसी तरह, जब बाजार गिर रहा है, तो अपने निवेश को तरल न करें, शेयर बाजार ठीक हुए तक अपने शेयर की पकड़ बरकार रखे।

 

 

 

टिप्स # 8: एक से ज्यादा स्टॉक्स का चयन के 

 

सिर्फ एक ही स्टॉक या शेयर आपको एक तो नुकसान या फिर फायदा होगा, मगर आपके पास अगर एक से ज्यादा स्टॉक्स होंगे तो आप अपने स्टॉक की नुकसान भरपाई, अपने दूसरे स्टॉक से पूरा कर सकते हो।

 

नुकसान को रोकने के लिए विभिन्न प्रकार के शेयरों का चयन महत्वपूर्ण है, अपने इस रणनीति से आपको कही बार फायदा तो नहीं होता मगर आपके हुए बड़े से बड़े स्टोक्स के नुकसान की भरपाई कर देता है।

 

शेयर मार्किट, स्टॉक ट्रेडिंग उतनी सरल नहीं है, लेकिन विविधीकरण एक ऐसी भूमिका निभाता है जाहा आपको विभिन्न क्षेत्रों से संबंधित कंपनियों के शेयरों को चुनने का विकल्प देता है।

 

इसलिए हमेशा एक ही स्टॉक या शेयर पर निर्भर ना रहे हमेशा अलग अलग कंपनियों के शेयर में निवेश करे. शेयर बाजार के इस नुकसान से बचने के टिप्स से आपको काफी फायदा हो सकता है।

 

 

 

टिप्स # 9: हेजिंग क्या है? और क्यों महत्त्वपूर्ण है? 

 

शेयर बाजार में हेजिंग भी एक उपयोगी उपकरण है जो आपको स्टॉक निवेश से होने वाले नुकसान को रोकने में मदद कर सकता है।

 

हेजिंग का सीधा साधा मतलब यह है की यह एक निवेश से दूसरे में निवेश करके नुकसान में कटौती करना होता है।

 

इसे उदहारण के तौर से समझा जाये तो, जभ भी शेयर बाजार में गिरवाट आती है या फिर स्टॉक में गिरावट आने लगती है तब सोने जैसी तरल एसेट्स में निवेश कर सकते हो।

 

क्युकी शेयर बाजार अस्थिर होने पर सोना बढ़ता है, तो आप बड़े आसानी से अपने स्टॉक्स में होने वाले नुकसान से बचाव कर सकते हो।

 

 

 

टिप्स # 10: हमेशा सीखते रहे 

 

किसी भी चीज को सीखना यह कभी नहीं होता और आज के ज़माने में किसी भी शाखा में अपडेट रहने के लिए है सीखते रहन चाहिए।

 

जब बात आती है शेयर बाजार, Stock Market की तो इस इस शाखा में हमेशा अपडेट रहना हमारे निवेशक सफर के लिए काफी अहम् नाना जाता है।

 

बाज़ार में आने वाले नए नियम, नए तकनीक से होने वाली ट्रेडिंग साथ ही बाजार में नवीनतम परिवर्तनों और हमेशा अपने आप को बाजार में शामिल कंपनियों के साथ अपडेट करना चाहिए।

 

शेयर बाजार में हमेशा सीखते रहने के लिए अपडेट रहने के लिए स्टॉक मार्किट से संबधित Online Class ले, स्टॉक ट्रेडिंग पर किताबें पढ़ें, सफल निवेशकों की रणनीतियों को समझें और अपने ज्ञान के आधार का विस्तार करें।

 

इसके उन Current Affairs पर नज़र रखें जो आपको यह समझने में मदद कर सकते हैं कि कौन सी कंपनी इसमें निवेश करने और अपने निवेश को बढ़ाने के लिए तैयार है।

 

 

 

टिप्स # 11: अपने स्टॉक्स को नियमित रूप से ट्रैक करते रहे 

 

शेयर बाजार ने निवेशकों को होने वाले सबसे अहम् नुकसानों में एक यह है की लम्बे समय तक स्टॉक्स को मॉनिटर न करना।

 

शेयर बाजार,स्टॉक ट्रेडिंग एक गतिशील गतिविधि है, यहाँ हर पल हमें मार्केट में उतार चढ़ाव देखने मिलते है, यह एक निश्चित जमा योजना नहीं है जहाँ आप निवेश करते हैं और भूल जाए।

 

अधिकतम रिटर्न प्राप्त करने के लिए, आपको अपने निवेश के साथ सक्रिय रहने की आवश्यकता है, ज्यादातर सफल ट्रेडर्स रोजाना घंटो तक अपना वक़्त ट्रेडिंग ट्रैक करने में लगा देते है।

 

अगर आपको भी अपने स्टोक्स में नुकसान से बचना है तो दिन का कुछ वक़्त अपने स्टॉक को ट्रैक करने में लगाए।

 

साथ ही ट्रैक करते समाये ये भी देखे की कौनसे स्टॉक अच्छा प्रदर्शन कर रहे और कौन से नहीं।

 

 

 

टिप्स # 12: बड़ी मात्रा में एक ही स्टॉक में निवेश ना करें 

 

हम में से कही सारे बिगिनर्स स्टॉक्स में बड़ी मात्रा में निवेश कर देते है, शेयर बाजार में नए होने के नाते, वे व्यावहारिक रूप से कई चीजों को नहीं जानते हैं, इसके वजह से उन्हें बहोत बड़े नुकसान का सामना करना पड़ सकता है।

 

इसलिए शुरवाती वक़्त में काम पैसे से स्टॉक को ख़रीदे, अगर आपको बड़ी रकम में स्टॉक्स खरदीने है तो एक ही स्टॉक्स के बजाये अलग अलग स्टॉक्स ख़रीदे, ताकि अगर आपको किसी एक स्टॉक्स में नुकसान हुआ तो भी आप दूसरे स्टॉक्स से अपने पहले स्टॉक्स की नुकसान भरपाई कर पाएंगे।

 

 

 

टिप्स # 13: विश्लेषकों पर निर्भर ना रहे 

 

Internet, Youtube पर आपको कही सारे वित्तीय विश्लेषक और फंड मैनेजर हैं मिल जाएँगे जो अपने स्टॉक सिफारिशों और ट्रिक्स, टिप्स को शेयर करते रहते है। मगर इन टिप्स और सिफारिशों आपके लिए भी उतनी ही लाभकरि होंगी जिंतनी उनके लिए।

 

Youtube पर ऐसे बहोत से लोग मिल जायेंगे जो सिर्फ अपने Channel के Views बढ़ने के लिए आपको गलत-सलत सिफारिशें देते रहते है।

 

इसलिए वित्तीय विश्लेषक और फंड मैनेजर जैसी लोगो पर पूरी तरह से भरोसा करके निवेश ना करे।

 

वित्तीय विश्लेषक का सिफारिशों को बस अपने रिसर्च का एक हिस्सा बनाकर रखे इसे समझे न की इन्हे बिना समझे किसी भी स्टॉक्स में निवेश करें, इससे आपको बहोत बड़े नुकसान का सामना करना पढ़ सकता है।

 

 

 

टिप्स # 14: सही वक़्त पर सही स्टॉक्स का चुनाव 

 

शेयर खरीदने या बेचने के लिए सही विकल्प बनाना आवश्यक है। इसके लिए कंपनी की लाभ और हानि की वार्षिक रिपोर्ट को अच्छी तरह से समझे।

 

स्टॉक चुनने का सही विकल्प केवल Share Market के movements पर निर्भर करता है, इसमें निवेश करने से पहले विशेष क्षेत्र पर बाजार अनुसंधान करें।

 

 

 

टिप्स # 15: High Cap Vs Low Cap स्टॉक्स की हिस्सेदारी 

 

हममे से ज़्यदातर निवेशक सोचते है की स्टॉक्स की छोटी-सी हिस्सेदारी में हमें लाभ हो जाएंगा मगर ऐसा ब्लिकुल नहीं है Small-Cap शेयर आपको लाभ दे सकता है लेकिन इसका प्रतिशत बहुत कम होता है। और साथी ही Small-Cap शेयर में निवेश करना काफी जोखिम भरा होता है।

 

ज्यादातर Small-Cap शेयर इन कंपनी के होते है जिनके शेयर की कीमत निचे जा रही हो, बाजार में उनके खराब प्रदर्शन के कारण उनके शेयर की कीमतों में वृद्धि की संभावना बहुत कम होती है।

 

इसलिए Small-Cap स्टॉक्स में निवेश करना जोखिम भरा हो सकता है। बड़े कैप स्टॉक महंगे होंगे लेकिन इसकी वृद्धि की संभावना अधिक है क्योंकि वे प्रतिष्ठित होते है।

 

 

 

टिप्स # 16: योजना के बिना शेयर बाजार में निवेश ना करें

 

देखा जाए तो जो लोग एक लिखित निवेश योजना बनाते हैं, वे अपने सहयोगियों के तुलना में शेयर बाजार के सटीक अनुमान और ज्यादा लाभकारी होते है।

 

अगर आपको बिना अनुभव के शेयर बाजार में होने वाले नुकसान से बचना होतो उसके लिए आपको पूर्वनियोजित योजना बनान बहोत ज़रूरी हो जाता है।

 

दोस्तों आपको हमेशा हॉट टिप्स, अफवाहें, समाचार, आदि बातो पर ध्यान ना देकर आपको हमेशा अपनी रणनीतियों और उचित दृष्टिकोणों के आधार पर कुछ योजना बनानी चाहिए।

 

यही योजना आपके लक्ष्यके समय और नुकसान को रोकने और अधिक को परिभाषित करने में आपकी सहायता करेगा।

 

 

 

टिप्स # 17: MARGIN FACILITY का उपयोग ना करें

 

Share Market के व्यापारियों के लिए रक्कम की कमी सबसे आम समस्याओं में से एक है. इस समस्या वाले व्यापारियों की मदद करने के लिए, स्टॉकब्रोकर अब मार्जिन सुविधा प्रदान करते हैं।

 

जिसमे आप आपके स्थिर रक्कम के ५ गुना ज्यादा रक्कम के शेयर उठा सकते हो मगर मार्जिन के साथ रखे गए ट्रेडों को आम तौर पर उसी दिन बाजार बंद होने से पहले चुकता करना पड़ता है।

 

यह सुविधा अनुभवी ट्रेडर्स के लिए फायदेमंद हो सकती है मगर बिगिनर्स (शुरुआती लोगों) को इसका उपयोग करने से बचना चाहिए क्योंकि इससे गंभीर नुकसान हो सकता है।

 

शुरवात में आप आपके रक्कम से ही ट्रेड करे कुछ अनुभव प्राप्त करने के बाद मार्जिन सुविधा का उपयोग करें।

 

 

 

टिप्स # 18: धैर्य 

 

सभी सफल शेयर निवेशकों में एक चीज सामान होती है ओर वह है धैर्य, क्युकी हमारे में से बहोत से लोग शुरवाती दौर में बिना धैर्य से ना रहे किसी भी वक़्त कोई भी स्टॉक्स को खरीद लेते है।

 

Mr. Warren दुनिया के सबसे सफल निवेशकों में से है उनके मुताबिक़ यदि आप एक दीर्घकालिक निवेशक हैं, तो आपको निवेश करने के लिए समय देने की आवश्यकता है।

 

मगर इसका मतलब यह नहीं है कि आप किसी भी बेकार स्टॉक में निवेश करते हैं और धैर्यपूर्वक प्रतीक्षा करते हैं। 

 

ऊपर दिए गए सभी तरह के शेयर बाजार में नुकसान से बचने के सबसे बेस्ट टिप्स से आप अपने शेयर बाज़ार के दुनिया में महारत हासिल कर सकते है, और आप बड़े ही आसान तारिक से शेयर बाजार में होने वाले नुकसान से बच सकते हो। 

 

 

Also, Read 

 

 

 

 

समापन

 

तो दोस्तों शेयर बाजार यह कोई जुवा, या जादू नहीं की इससे हमेशा फायदा होगा या हमेशा नुकसान होंगा, अगर आपको भी शेयर बाजार में नुकसान से बचना है तो इसके लिए अनुशासन, अचूक योजना, धैर्य, स्टोक्स की सही तरीके की जानकारी आवर भी बहोत से बाते मायने रखती है।

 

अगर आपको भी शेयर बाजार में नुकसान से बचने के टिप्स को फॉलो करेंगे तो यक़ीनन आप शेयर बाजार में सफल हो पाओगे। 

 

अगर आपको हमारा यह लेख पसंद आया होतो या आपको इस लेख से कोई सुझाव या सवाल होतो कमेंट करे ज़रूर बताये, धन्यवाद। 

 

जय हिन्द 

Leave a Comment