मोबाइल टावर लगाने और हटाने के नियम 2021 | Mobile Tower Installation And Regulations In Hindi

दोस्तों अगर आप एक मोबाइल टावर लगवाना चाहते हैं या फिर हटाना चाहते हैं तो आप उन सभी तरीकों के बारे में हमारे इस पूरे लेख से जान सकते हैं क्योंकि आज के लेख में हम आपको बताएंगे कि अगर आपके पास कोई खाली जमीन है वह भी ऐसी जगह जिसके चारों और कई सारे घर है या फिर वह एक भीड़भाड़ वाले इलाके के बीच में है या फिर आपके गांव में कोई मोबाइल टावर नहीं है और सिग्नल आने में प्रॉब्लम होती है।  

 

अगर आप अपने गांव के लिए अपने जमीन पर एक मोबाइल टावर लगवाना चाहते हैं। लेकिन आपको यह नहीं पता कि एक मोबाइल टावर खुद के जमीन पर लगवाने के लिए कैसे अप्लाई कर सकते हैं तथा अगर आपने पहले से ही अपनी जमीन पर मोबाइल टावर लगवाया है और आप चाहते हैं कि से हटवाया कैसे जाए तो कोई बात नहीं आप बिल्कुल सही जगह पर आए हैं।

 

आज के इस पूरे लेख में मोबाइल टावर लगाने के नियम और मोबाइल टावर हटाने के नियम पूरे विस्तार में जानकारी देंगे।

 

ये भी पढ़े

 

 

 

मोबाइल टावर लगाने के लिए क्या करे 

 

अगर आप एक मोबाइल टावर लगवाना चाहते हैं और जैसे ही आप हमारे इस लेख की मदद से मोबाइल टावर अपनी जमीन पर लगाने के लिए अप्लाई करेंगे तभी कुछ दिनों के बाद मोबाइल टावर लगाने वाली कंपनी अपनी एक टीम को भेजेगी जो आपके उस जगह की अच्छे से पड़ताल करेगी।

 

अगर जांच करते हुए आप की जगह बिल्कुल सटीक और सही पाई गई यानी कि आपके उस जमीन पर टावर लगाने से उनके द्वारा छोड़े गए नेटवर्क पूरे एरिया में अच्छे से फैले इसी तरह की जांच करके सही पाई गई तो कुछ ही दिनों में टावर लगाने का काम शुरू हो जाएगा दोस्तों टावर लगवाना काफी फायदेमंद साबित होता है क्योंकि इस प्रक्रिया में हमें उस खाली जगहों के अच्छा खासा किराया मिलता हैं वो भी बिना कुछ किए। 

 

दोस्तों हम आपको बता दें कि एक मोबाइल टावर लगवाने के लिए कोई भी टेलीकॉम कंपनी जैसे – vi, Airtel,jio या idea जैसी कंपनियों से हमें कांटेक्ट नहीं करना होता है क्योंकि टावर लगाना इन कंपनियों का काम नहीं है। 

 

बेशक इन कंपनियों के लिए टावर लगवाना बहुत ही जरूरी है लेकिन यह कंपनियां खुद से टावर ना लगवा कर टावर लगाने वाली किसी संस्था को एक कंपनी के हाथों सौंप देती है क्योंकि यह कंपनियां किसी थर्ड पार्टी कंपनियों की मदद से ही अपना अपना टावर लगवाती है। 

 

अगर आप अपनी जमीन पर टावर लगवाना चाहते हैं तो आपको किसी ऐसी कंपनी से संपर्क करना होगा जिन कंपनियों का काम ही टावर लगवाना होता है तो चलिए जानते हैं कि अपने किसी भी जगह टावर लगवाने के लिए नियम क्या है जिससे आप उन नियमों को फॉलो करके अपने जमीन पर मोबाइल टावर लगवा सकते हैं तो चलिए जानते हैं कि क्या है वह नियम। 

 

मोबाइल टावर लगाने के नियम

 

नीचे हमने स्टेप बाय स्टेप कुछ नियम बताए हैं जिनकी मदद से आप अपने खाली जमीन पर टावर लगवा सकते हैं तो कृपया आप हमारे बताए गए नियमों को स्टेप बाय स्टेप अच्छे से फॉलो करें।

  • सबसे पहले अगर आप शहर में किसी भी जगह पर मोबाइल टावर लगवाना चाहते हैं तो उसके लिए 2000 स्क्वेयर फीट खाली जगह का होना जरूरी है। 
  • और अगर आप अपने किसी गांव में अपने खाली जमीन पर मोबाइल टावर लगवाना चाहते हैं इसके लिए 2500 स्क्वायर फीट जगह का खाली होना जरूरी है। 
  • वही अगर आप मोबाइल टावर अपने घर के छत पर लगवाना चाहते हैं तो आपके घर के छत पर कम से कम 500 स्क्वायर फीट की जगह खाली होनी चाहिए जहां पर कंपनियां अपना मोबाइल टावर फिट करेगी।
  • दोस्तों टावर लगवाने के लिए आपको टावर लगाने वाली कंपनियों को कोई भी किसी भी तरह का पैसा नहीं देना होता है बल्कि जितना भी खर्च होता है वह सब कंपनियां खुद ही उठाती है। 
  • एक जरूरी बात अगर आप जिस जगह मोबाइल टावर लगाने का आवेदन दे रहे हैं अगर उस जगह के 100 मीटर के दायरे में कोई भी हॉस्पिटल मौजूद है तो वहां पर टावर नहीं लगाया जा सकता है। 
  • वहीं इसके साथ हीमोबाइल टावर लगाने वाले जगह के आसपास के पड़ोसी के लोग अगर टावर लगाने पर कोई सवाल उठाते हैं यानी कि वह टावर लगाने को नामंजूर करते हैं तो भी मोबाइल टावर लगाना थोड़ा मुश्किल है इसलिए जहां पर आप टावर लगवाना चाहते हैं सबसे पहले वहां के आसपास के लोगों से इस विषय में अच्छे से बात कर लीजिए।

मोबाइल टावर लगाने के लिए कुछ जरूरी कागजात क्या है?

दोस्तों जब आप मोबाइल टावर लगाने वाली कंपनी को आवेदन करते और वह आपके जगह की जांच पड़ताल करने जब आती है तो इस बीच आपसे कुछ जरूरी दस्तावेज भी मांग सकती है जिन्हें देना जरूरी होता है तो चलिए जानते हैं कि कौन कौन से दस्तावेज की जरूरत पड़ सकती है।

 

  • सबसे पहले आपको स्ट्रक्चर सेफ्टी सर्टिफिकेट कंपनी को देना होगा क्योंकि यह सर्टिफिकेट यह बताता है कि आपकी बिल्डिंग या खाली जमीन टावर लगाने के काबिल है या फिर नहीं जिसके आधार पर कंपनी वहां टावर लगाएगी।
  • इसके बाद आपको अपनी जगह या बिल्डिंग के मालिक की तरफ से एनओसी(NO Objection Cirtificate) की जरूरत पड़ेगी इसका मतलब यह हुआ कि वह खाली जगह या बिल्डिंग के मालिक की तरफ से टावर लगाने पर कोई समस्या नहीं है इसे हमें नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट भी कहते हैं इसकी जरूरत आपको पड़ सकती है। 
  • उसके बाद एक टावर लगवाने के लिए एक एग्रीमेंट होता है जिसमें जगह या बिल्डिंग के मालिक के यानी आपके और कंपनी के बीच कानूनी रूप से एग्रीमेंट साइन होता है।

मोबाइल टावर लगाने के लिए अप्लाई कैसे करें?

 

दोस्तों यहां तक तो हमने आपको पता ही दिया कि मोबाइल टावर लगवाने के लिए किन-किन चीजों की जरूरत पड़ सकती है लेकिन मोबाइल टावर लगवाने के लिए अप्लाई कैसे करेंगे तो हम आपको बता दें मोबाइल टावर लगवाने के लिए भारत में ऐसी बहुत सारी कंपनी है इसलिए हम आपकी जानकारी के लिए हमने यहां पर आपको तीन सबसे बड़ी और पॉपुलर मोबाइल टावर लगवाने वाली कंपनी के बारे में बताने जा रहे हैं।

Indus Tower

 

इंडस टावर जो कि भारत की सबसे बड़ी मोबाइल टावर की कंपनी है भारत में स्थित कई सारे ऑफिस का हेड ऑफिस गुड़गांव में स्थित है इस कंपनी के द्वारा भी आप टावर लगवाने के आवेदन दे सकते है।

Bharti Infratel

 

दोस्तों इस कंपनी की शुरुआत 1976 ईस्वी में सुनील भारती मित्तल द्वारा अपने दो भाइयों के साथ किया गई थी  यह कंपनी सबसे ज्यादा एयरटेल जैसी कंपनियों के टावर लगाने के लिए जानी जाती है। 

 

ATC Tower

दोस्तों हमारे इस लिस्ट में तीसरी कंपनी जिसका  नाम American tower corporation है यदि सबसे नामी टावर लगाने वाली कंपनी है इस पर भी आप विश्वास कर सकते हो और अगर आप टावर लगवाना चाहते तो आप इस कंपनी के यहां अभी आवेदन दे सकते हो

 

दोस्तों हमने आपको इस लेख में तीन कंपनियों के नाम दिए हैं जिस पर विश्वास किया जा सकता है और आप इन तीनों में से किसी भी एक कंपनियों से संपर्क कर सकते हो इन कंपनियों की ऑफिशियल वेबसाइट का लिंक है हमने उस कंपनियों के नाम पर लिंक कर रखा है जैसे आप उसके ऊपर क्लिक करोगे आप उसके ऑफिशियल वेबसाइट पर पहुंच जाओगे।

 

अगर आप इन कंपनियों के ऑफिस पर जाना चाहते हैं तो आप उनके ऑफिस पर भी जा सकते हैं वहां पर बस आपको टावर लगाने वाले आवेदन और उनके फॉर्म को भरकर वहां पर सबमिट कर सकते हो जिसके बाद वहां से टीम भेजी जाएगी जो आपकी जगह के अच्छे से पड़ताल करेगी और अगर आपकी जगह कंपनी टीम की नजर में पास हो जाती है तो वहां पर जल्द ही टावर लगाने का काम शुरू कर दिया जाएगा।

 

मोबाइल टावर हटाने के लिए क्या करे 

 

 

दोस्तों अगर हम बात करें मोबाइल टावर हटाने की तो इसके लिए किसी भी प्रकार की इंटरनेट पर पुष्टि नहीं दी गई है लेकिन अगर आप किसी टावर को हटाना चाहते हैं या फिर उस टावर को उनके इस जगह से हटाकर किसी दूसरे जगह पर शिफ्ट करना चाहते हैं तो दोस्तों मैं आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि जब टावर लगाया जाता है तब उसी वक्त आपको इसके बारे में सोचना होता है। 


अगर आप टावर लगाने वाले जगह के मालिक नहीं है आप आसपास के लोग हैं और बाकी लोगों के साथ अगर आप इसके खिलाफ हैं तो आप इसके खिलाफ कार्यवाही कर सकते हैं अगर आपकी कोई बात ना सुने तो आप अदालत का भी दरवाजा खटखटा सकते हैं। 

 

लेकिन दोस्तों इसके खिलाफ कार्यवाही तभी हो सकती है जब तक टावर से निकल रही रेडिएशन की अतिरिक्त कोई ऐसी ठोस वजह ना मिले। अगर आप एक्शन लेना चाहते हैं टावर के खिलाफ सबको यह बात तभी उठानी चाहिए जब टावर वहां पर लग रहा हो और आप अदालत में केस फाइल करवा सकते हैं।  

 

जब भी टावर लगाया जाता है तो तब वहां की अच्छे से जांच की जाती है और RWA(Residence welfare society) की परमिशन ली जाती है। इसलिए जब शुरू शुरू में टावर लग रहा हूं तभी आप सभी लोगों के साथ मिलकर इस पर एक्शन ले सकते हैं और जो भी  समस्या होगी उसकी जांच करने के बाद भी समस्या का हल किया जाएगा और यह सभी प्रक्रिया कानूनी रूप से होगी। 

 

मगर अगर आप जमींन के मालिक हो और आपको आपके खेत या छत से टावर हटाना होतो इसके लिए आपको आपसे किये हुए अग्रीमनेट की नियमावली से ही हटवाया जा सकता है। जब तक आपका अग्रीमेंट पूरा ना हो जाए तब तक आप आपके जमींन अपने मर्जी से टावर हटा नहीं सकते। 

 

इन एग्रीमेंट में इस बात का उल्लेख किया जाता है कि आप इस टावर को इतने सालों के बाद ही हटा सकते हैं तो इस बात का ध्यान रखें। लेकिन वही अगर आप अपनी गलती मान कर व टावर अपनी जमीन से हटाना चाहते हैं तो तो आप इस विषय में उस कंपनियों के आफिस में आवेदन दे सकते हैं तथा आप इसके ऊपर कानूनी रूप से भी कार्रवाई कर सकते हैं अगर आपकी वजह का कोई मजबूत या सहनशील कारन मिले तब आपकी जमींन  टावर हटाया जा सकता है।

 

समापन 

 

तो दोस्तों मुझे उम्मीद है कि आप को मोबाइल टावर लगाने के नियम और मोबाइल टावर हटाने के नियम से जुड़ी सभी समस्याओं का हल हमारे इस लेख में मिल गया हो। 

 

अगर आपको हमारा यह लेख पसंद आया है तो आप हमारे वेबसाइट पर डाले गए और भी जरूरी इंफॉर्मेशन वाली पोस्ट पढ़ सकते हैं तथा अगर इस पोस्ट की किसी को भी जरूरत हो तो आप उन्हें भी जरूर शेयर करें हम उम्मीद करते हैं कि हम आपके सभी समस्याओं को हल करने में सफल हो सकें। धन्यवाद्, जय हिन्द। 

Leave a Comment